Backlink क्या है,क्यों जरुरी है और Backlink कैसे बनाये?

backlink kya hai

Backlink क्या है ये सवाल लगभग सभी new bloggers के मन रहता है तो आज हम इसी खास टॉपिक पर बात करने वाले हैं |साथ ही SEO में बैकलिंक का क्या importance होता है ये भी हम आज जानने वाले हैं |

हालाँकि जो ब्लॉग्गिंग करते हैं उन्हें तो Backlink के बारे में पता होगा लेकिन जो अभी ब्लॉग्गिंग फील्ड में बिलकुल नये हैं उन्हें Backlink के बारे में पता नहीं होगा |

यह भी पढ़े :

Blog किस Topic पर बनाये – जानिए Best Blog topic ideas in hindi

Blog को एक प्रोफेशनल तरीके से डिज़ाइन कैसे करें – पूरी जानकारी

Basically अगर में मोटे तौर पर बताऊं तो बैकलिंक SEO का एक बहुत ही इम्पोर्टेन्ट पार्ट है | ये मान लीजिये की बिना बैकलिंक के Google पर पोस्ट को रैंक कराना बहुत ही ज्यादा मुश्किल है |और बिना गूगल पर रैंक हुए आपको ट्रैफिक तो मिलेगा नहीं इसलिए कुल मिलाकर एक ब्लॉगर को बैकलिंक के बारे में पूरी अच्छे से जानकारी होना बहुत ही जरुरी है तो चलिए जानते हैं Backlink के बारे में

Backlink क्या है (what is backlink in hindi

जब आपकी वेबसाइट का लिंक किसी दूसरी वेबसाइट पर add होता है तो इसे कहते हैं Backlink |

Backlink kya hai

मान लीजिये मेरी x वेबसाइट हैं और आपकी y वेबसाइट है | और आपके वेबसाइट का टॉपिक भी और मेरे वेबसाइट का टॉपिक भी same है | अब आपकी y वेबसाइट के किसी पोस्ट पर मेरी x वेबसाइट का कोई पोस्ट या फिर मेरे वेबसाइट के home page का link अगर add है तो इसका मतलब हुआ की मैंने अपने x वेबसाइट के लिए आपके y वेबसाइट से Backlink लिया है |

Backlink क्यों जरुरी है

अब आपने ये तो जान लिया की Backlink क्या है लेकिन अब सवाल ये आता है की इसकी जरुरत क्या है मुझे अपनी वेबसाइट को किसी दूसरे से लिंक करने की? तो चलो जानते हैं |

देखो! हम सब ये जानते हैं की google से फ्री में ट्रैफिक चाहिए तो अपनी पोस्ट को google में ऊपर लाना पड़ेगा और उसके लिए करना होगा SEO

और SEO में दो सबसे महत्वपूर्ण फैक्टर होते हैं एक keyword

और दूसरा है Backlink जो आपकी पोस्ट की अथॉरिटी को बढ़ाता है गूगल पर |

आपको अपने ब्लॉग की ऑथरिटी गूगल पर बढ़ाने की जरुरत इसलिए पड़ती है क्योंकि जिस टॉपिक पर आपने पोस्ट लिखा है उसी टॉपिक पर कई सारे पोस्ट already गूगल पर होते हैं ऐसी स्थिति में google के algorithm उन्ही पोस्ट को ऊपर दिखाते हैं जिनका कंटेंट क्वालिटी वाला होता है और जो वेबसाइट जितनी और दूसरी क्वालिटी वेबसाइट से Linked होते हैं|

इसके अलावा जिस वेबसाइट से आपके वेबसाइट को बैकलिंक मिलता है वहां से ट्रैफिक भी आपको मिलता है क्योंकि जो यूजर उस वेबसाइट पर आते हैं वो आपके ब्लॉग के लिंक जो वहां पर add है उससे आपके ब्लॉग तक भी आ सकते हैं तो कुल मिलाकर Backlink बनाने से जहाँ आपके कम्पटीशन वाले पोस्ट को गूगल में टॉप पर रैंककरने में मदद मिलती है तो वही आपको ट्रैफिक भी मिलता है |

लेकिन ये बिलकुल भी नहीं है की आपने किसी भी ऐसे -वैसे वेबसाइट पर जाकर अपने वेबसाइट का लिंक किसी भी तरीके से add कर दिया तो आपको रैंकिंग में फायदा होगा बिलकुल भी नहीं उल्टा गलत वेबसाइट पर या गलत तरीके से बैकलिंक बनाने पर आपके ब्लॉग को google की तरफ से पेनल्टी भी मिल सकती है जिससे आपके पोस्ट की रैंकिंग डाउन हो जाती है या फिर गूगल आपके ब्लॉग को हटा देता है |

तो किस तरीके का बैकलिंक आपको बनाना चाहिए ये जानने के लिए आपको Backlink के प्रकार को समझना बेहद जरुरी है |

Backlink कितने प्रकार के होते हैं

Backlink के दो प्रकार होते हैं –

1 – Dofollow Backlink

2 – Nofollow Backlink

Dofollow Backlink

Dofollow Backlink को समझने से पहले आपको Link juice को समझना पड़ेगा |

जब कोई दूसरी वेबसाइट पर आपकी वेबसाइट का लिंक natural तरीके से add होता है मतलब की उस वेबसाइट का ओनर आपकी वेबसाइट को प्रमोट करना चाहता है और वो आपकी वेबसाइट के कंटेंट को वैल्यू देता है तो एक valubale लिंक बनता है | इस term को Link juice कहते हैं | और इस टाइप के लिंक से आपको सर्च इंजन यानि google में रैंकिंग में मदद मिलती है | इसे कहते हैं Dofollow Backlink |

Dofollow बैकलिंक की पहचान आप कैसे कर सकते हो जानिए इसमें किसी भी प्रकार का कोई एट्रीब्यूट नहीं होता है |

<a href=”yourwebsite.com”>link text </a>

Nofollow Backlink

Nofollow Backlink मिलने पर किसी भी प्रकार का link juice pass नहीं होता है मतलब की जिस वेबसाइट से आपकी वेबसाइट का link add हुआ है वो वेबसाइट आपको कोई वैल्यू नहीं दे रही है आपने बस अपने वेबसाइट को वहां पर add तो किया है लेकिन उस वेबसाइट का owner उसे परमिशन नहीं देता इसलिए google में भी आपको Nofollow Backlink से कोई फायदा नहीं होता है |

Nofollow Backlink की पहचान आप कैसे कर सकते हो जानिए इसमें

<a href=”yourwebsite.com” rel=”nofollow”>link text</a>

Backlink कैसे बनाये

अभी तक आपने Backlink क्या है ,कितने प्रकार के होते हैं और क्यों जरुरी हैं ये सब जान लिया है अब जरूर आप ये तो जानना ही चाहते होंगे की Backlink बनाये कैसे?

लेकिन इससे पहले आपको कुछ बातों को समझना बहुत जरुरी है वो पहले जान लेते हैं |

Backlink बनाने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

Quality links

पहली बात जब आप बैकलिंक बनाते हो तब ध्यान रखें की आपको quality यानि do -follow Backlink ज्यादा बनाने हैं |

Do-follow Backlink आपको बनाने हैं अपने niche वाले ब्लॉग से जिनका DA(domain Authority) अच्छा हो| जैसे आप डिजिटल मार्केटिंग और ब्लॉग्गिंग के बारे में लिखते तो आपको उन्ही sites से link लेना है जो इस टॉपिक से रिलेटेड हो और आपको एंकर टेक्स्ट (Anchor text) यानि जिस वेबसाइट पर आप अपनी वेबसाइट का लिंक add कर रहे हो वहां से आपके ब्लॉग के लिंक को किस टेक्स्ट से जोड़ा जा रहा है वो टेक्स्ट होता है Anchor text और ये एंकर टेक्स्ट भी आपके उस पोस्ट से रिलेटेड होना चाहिए जिसके लिए आप बैकलिंक ले रहे हो |

मान लीजिये आप अपने SEO क्या है पोस्ट पर बैकलिंक ले रहे हो तो आपका Anchor text SEO होगा तो बेस्ट है |

Spamming ना करें

आपको बैकलिंक बनाते समय spamming नहीं करनी है मतलब की आपको उन साइट्स से बैकलिंक नहीं बनाने हैं जिन्हे google recommend नहीं करता जैसे जो porn sites होती हैं या फिर ऐसी कुछ बहुत low sites होती हैं ऐसी साइट्स से बैकलिंक लेने पर आपको रैंकिंग में कोई फायदा नहीं होगा उल्टा गूगल से पेनल्टी जरूर मिलेगी |

दूसरा बहुत ज्यादा किसी दूसरे ब्लॉग पर comment में लिंक add न करें बहुत ज्यादा forum submission,web 2 .0 इन सब तरीकों से बैकलिंक न बनाये और एक बात आपको ध्यान रखनी है की quality Backlink बनाने पर हमेशा ध्यान रखें की हमे क्वालिटी Backlink बनाने पर ध्यान देना हैं , बैकलिंक की quantity पर नहीं |

हाँ जरूर No-follow backlink भी जरुरी है बनाना ताकि आपके ब्लॉग पर एक सामजस्य बना रहे हैं 100% do follow बैकलिंक बनाने से भी गूगल समझता है की आपने शायद स्पैम किया हो इसलिए 20% No-follow backlink भी बनाये |

Backlinks बनाने के तरीके

1 – Guest Post

Do follow Backlink बनाने का सबसे बेस्ट तरीका है Guest Post मतलब जब आप अपने टॉपिक से रिलेटेड ही किसी दूसरे वेबसाइट पर कोई पोस्ट लिखते हो जिसके बाद आपको उस वेबसाइट से आपके पोस्ट का या फिर आपके ब्लॉग के home page के लिए Backlink मिलता है | इस टाइप का Backlink do follow होता है |

आपको करना क्या है Guest post से backlink बनाने के लिए पहले उन सभी ब्लॉग को सर्च करना है जो आपके टॉपिक से रिलेटेड हैं और जिनका DA यानि Domain Authority बढ़िया है फिर उन्हें email,facebook कैसे भी करके contact करना है और फिर उन्हें कहना है की आप उनके ब्लॉग पर एक गेस्ट पोस्ट लिखना चाहते हैं फिर वो आपको अपनी requirement बताएंगे की हमे इस टाइप का पोस्ट चाहिए आपने बस उसी टाइप से पोस्ट लिखकर उन्हें send करना है और फिर आपको वो Backlink दे देंगे |

2 – question -answer forum join करें

दूसरा तरीका है Backlink बनाने का आप अपने question -answer forum join करें जैसे Quora आदि | लेकिन यहाँ पर आपको अपने टॉपिक से रिलेटेड ऑडियंस को सर्च करना है और उन्होंने क्या सवाल किये हैं उनका जवाब देने की कोशिश करनी है फिर अपने जवाब में आप अपने उस पोस्ट का लिंक add कर दीजिये जिसमे आपने उनके सवाल का डिटेल में answer दिया होगा | हालाँकि काफी सारे फोरम से आपको no-follow link भी मिल सकता है लेकिन कुछ do -follow भी जरूर मिलेगा जो बहुत ज्यादा आपकी हेल्प करेगा रैंकिंग में साथ ही इन फोरम से आपको अपने ब्लॉग के लिए traffic भी direct मिलेगा |

Top 20+ Question and Answer Websites List 2020

3 – Infographics

जब आप किसी टॉपिक के बारे में कंटेंट सिर्फ लिखकर नहीं बल्कि एक डिज़ाइन के रूप में उसे बताते हो तो ये होता Infographics |

काफी सारी ऑनलाइन infographics साइट्स होती हैं जहाँ आप अपने टॉपिक से रिलेटेड डिज़ाइन बना कर वहां सबमिट करो और आप अपने रिलेटेड पोस्ट का लिंक भी वहां पर add कर सकते हो इससे भी आपको do-follow Backlink मिलता है |

Infographic submission sites for 2020

4- Broken Link

ये भी एक बहुत ही बढ़िया तरीका है Backlink बनाने का | आपको बस अपने टॉपिक से रिलेटेड बड़े ब्लॉग के Broken लिंक को सर्च करना है मतलब की किसी ब्लॉग पर जो outside लिंक add होते हैं उनमे से कई लिंक dead होते हैं मतलब की उस लिंक पर क्लिक करने पे यूजर जिस पेज पर जाता है वहां कोई content ही नहीं होता है सिर्फ पेज दिखाई देता है |

तब आप उन ब्लॉग के owner को मेल या किसी और तरीके contact करके ये बता सकते हो आपक ये लिंक dead हो चूका है जबकि मैंने भी उसी टॉपिक पर एक बढ़िया कंटेंट लिखा है क्या आप मेरे पोस्ट के लिंक को वहां पर add क़र सकते हो |

5 – Quality Content

आपके पोस्ट के quality content से बेहतर कोई और बेस्ट तरीका नहीं हो सकता आपको बैकलिंक मिलने का | जब आप यूजर की need को समझकर एक क्वालिटी पोस्ट लिखते हो तो लोग खुद ही आपको अपने ब्लॉग पर add करते हैं इसलिए पोस्ट की quality पर हमेशा ध्यान दें |

6 – Internal Linking

अपने एक पोस्ट पर उसी टॉपिक से रिलेटेड और दूसरे पोस्ट को add करने को internal linking कहते हैं | ये भी आपको जरूर करना है क्योंकि ये भी काफी matter करता है SEO में |

7- social sharing

सोशल मीडिया प्लेटफार्म आजकल कितने पॉपुलर है ये तो आपका पता ही है जैसे Facebook,Instagram,twitter आदि इन सभी पर आपको अपने ब्लॉग से रिलेटेड pages बनाने हैं और पोस्ट शेयर करने हैं | यहाँ से भी आपको ब्लॉग के लिए ट्रैफिक मिलता है बैकलिंक भले ही आपको इनसे न मिले लेकिन ये जरुरी हैं SEO के नजरिये से भी जितने जायदा लोग आपको इन सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर फॉलो करते हैं उससे आपको रैंकिंग में फायदा होता है |

अंतिम शब्द

मुझे पूरी आशा है दोस्तों इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद Backlink क्या है और इससे जुडी सारी अहम जानकारी आपको मिल गयी होगी |

अगर आपका कोई भी सुझाव या सवाल हमारे पोस्ट या फिर ब्लॉग के बारे में है तो आप हमे कमेंट करके बता सकते हैं |

ब्लॉग्गिंग से रिलेटेड ऐसी useful जानकारी के लिए हमारे Email Newsletter को subscribe और Facebook page को like करें |

Deepak Bhandari

Hello friends! मै DeepakBhandari.in का फाउंडर हूँ, मुझे डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन बिज़नेस से related टॉपिक के बारे मे जानना और साथ ही उस जानकारी को लोगों के साथ शेयर करना काफी अच्छा लगता है | इस ब्लॉग के जरिये मेरी कोशिश है की आप लोग अपने बिज़नेस या करियर को ऑनलाइन grow कर पायें |

6 thoughts on “Backlink क्या है,क्यों जरुरी है और Backlink कैसे बनाये?

  1. aapke post really bhot badiya hai… mai seo, digital marketing field m new hu… or apke is post ko padne ke baad kaffi chize meri clear ho gai.. Thank u so much ….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap